फ़रवरी 2, 2023 1:25 पूर्वाह्न

Category

चीन के पूर्व राष्ट्रपति को पार्टी कॉन्ग्रेस से पकड़ कर किया बाहर, जिनपिंग के विरोधी निशाने पर

चीन में अब वर्तमान राष्ट्रपति शी जिनपिंग को चुनौती देने वाले जितने भी नेता थे उन्हें निशाना बनाया जा रहा है।

849
2min Read
चीन की 'मजबूत सरकार' ने पूर्व राष्ट्रपति को बैठक से निकाला बाहर

चीन की ‘विकासोन्मुखी’ कम्युनिस्ट सरकार का एक और ‘क्रांतिकारी’ कदम सामने आया है। जहाँ सीसीपी शिखर सम्मेलन के दौरान वर्तमान सरकार द्वारा पूर्व राष्ट्रपति को बाहर निकाल दिया गया है।

दरअसल, चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की बैठक के दौरान जमकर हंगामा हुआ जिसमें लाइव टीवी पर चीन के पूर्व राष्ट्रपति हू जिंताओ को बीच बैठक ही बाहर निकाल दिया गया। चीन में अब वर्तमान राष्ट्रपति शी जिनपिंग को चुनौती देने वाले जितने भी नेता थे उन्हें निशाना बनाया जा रहा है।

हू जिंताओ उस समय राष्ट्रपति शी जिनपिंग के पास ही बैठे हुए थे जब सुरक्षाकर्मी आए और थोड़े वाद विवाद के बाद उन्हें जोर जबरदस्ती से बाहर ले गए। चीन कम्युनिस्ट पार्टी के इस कारनामे का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। उल्लेखनीय है कि कम्युनिस्ट पार्टी सम्मेलन का ये 20वां सत्र था, जिसमें शी जिनपिंग की तीसरी बार ताजपोशी हो रही थी। 

इसी बैठक में शी जिनपिंग के विरोधी पीएम के कियांग को भी सेंट्रल कमेटी से बाहर कर दिया गया है। चीन के प्रधानमंत्री सहित 4 लोगों को पार्टी की नवनिर्वाचित 7 सदस्यीय पोलित ब्यूरो स्थायी समिति से बाहर कर दिया गया है। सत्तासीन कम्युनिस्ट पार्टी ने केंद्रीय समिति के 205 नए सदस्यों की सूची जारी की थी। 

इसके साथ ही सीसीपी पर शी जिनपिंग की पकड़ और मजबूत हो, इसके लिए एक और संशोधन लाया गया और इसी के साथ एक  सप्ताह से जारी यह सम्मेलन खत्म हो गया। सम्मेलन में पार्टी ने अगले 5 वर्षों के लिए अपना एंजेडा तय कर लिया है।

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने इस सम्मेलन का समापन इस उद्घोष के साथ किया कि ये बदलाव पार्टी को मजबूत करेगा और सभी आवश्यकताओं को पूरा करेगा।

The Indian Affairs Staff
The Indian Affairs Staff
All Posts

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Recent Posts

Popular Posts

Video Posts