सितम्बर 27, 2022 5:57 पूर्वाह्न

Category

'शराबी भगवंत मान' को प्लेन से धक्के मारने की खबर को 'जर्मन टाइम्स' ने पहले पन्ने पर छापा? Fact Check

जर्मन टाइम्स की वेबसाइट खंगालने के बाद एवं एक्सपर्ट्स द्वारा जांच करने पर यह तस्वीर हमारी पड़ताल में फेक साबित हुई।

1332
2min Read

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान जर्मनी दौरे के दौरान एक घटना को लेकर विवादों में हैं। मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है जर्मनी के फ्रैंकफर्ट से दिल्ली के लिए उड़ान भरते वक्त नशे में होने के कारण उन्हें विमान से उतार दिया था। इस मुद्दे पर विपक्ष एवं सोशल मीडिया पर जनता ने अरविन्द केजरीवाल को भी निशाने पर लिया है।

क्या है मामला ?

‘दी जर्मन टाइम्स’ ने भी इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया है, ऐसा सोशल मीडिया यूज़र्स का कहना है और वे इस तस्वीर को लगातार शेयर भी कर रहे हैं। सोशल मीडिया यूजर्स ने इस खबर का हवाला देकर कहा कि देश का सर शर्म से झुक गया है।

खबर का शीर्षक है, “शराबी भगवंत मान को प्लेन से धक्के मार कर निकाला”

क्या ‘दी जर्मन टाइम्स’ ने भगवंत मान की खबर को पहले पन्ने पर छापा?

दावा किया जा रहा है कि ‘दी जर्मन टाइम्स’ ने भगवंत मान के नशे में होने की इस खबर को अपने अखबार में प्रमुखता से जगह दी है। इस खबर के वायरल होते ही लोगों ने भगवंत मान से इस्तीफ़े की मांग की है।

यूथ कॉन्ग्रेस के एक पदाधिकारी ने भी वायरल हुई इस तस्वीर को ट्वीट करते हुए लिखा कि

“Dear Punjabis once the world saw Punjab as a brave land and now it gets to known as state of Alcohol.. When you choose a drunkard instead of a Good leader #BhagwantMann

यानी, एक समय था जब पंजाबियों को उनके जज्बे और साहस के लिए जाना जाता था, आज इस राज्य को सिर्फ नशे के लिए जाना जा रहा है।

खबर की पड़ताल

वायरल हुए इस लेख को पढ़ने पर प्रथम दृष्टया ही ज्ञात होता है कि यह तस्वीर सिर्फ एक मीम है और हास्य के उद्देश्य से बनाई गई है। लेख में ही एक पंक्ति में स्पष्ट लिखा है, “यह लेख व्यंग्य के लिए लिखा गया है।”

इस पंक्ति के साथ ही @BeingBHK नामक ट्विटर यूजर को भी टैग किया गया है। इस ट्विटर यूजर के बायो में लिखा है “… “Threads, Memes, Cartoons, Satire” (थ्रेड, मीम्स, कार्टून्स, व्यंग्य)

‘दी जर्मन टाइम्स’ की वेबसाइट खंगालने के बाद हमें पता चला कि भगवंत मान से जुड़ी इस प्रकार की कोई खबर प्रकाशित ही नहीं की गई है।

वहीं आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता, मलविंदर सिंह कांग ने इस घटना पर ट्वीट कर इस खबर को फ़र्ज़ी बताया। उन्होंने कहा कि सीएम भगवंत मान की छवि को धूमिल करने का प्रयास किया जा रहा है।

हमारी जाँच में यह ख़बर फ़र्ज़ी निकली है। अक्सर सोशल मीडिया पर लोग किसी खबर को व्यंग्यात्मक रूप देकर पेश करते हैं। लेकिन अन्य यूजर्स  बिना जाँच पड़ताल के ऐसी खबरें शेयर करते हैं। 

क्या है घटनाक्रम ? 

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान 11 सितम्बर को जर्मनी गए थे और उन्हें 18 सितम्बर को दिल्ली में आम आदमी पार्टी के नव निर्वाचित प्रतिनिधियों से पहले ही राष्ट्रीय सम्मलेन में पहुँचना था। 

इसके लिए उन्हें रविवार को फ्रैंकफर्ट से दिल्ली के लिए फ्लाइट पकड़नी थी। बताया जा रहा है कि भगवंत मान सोमवार तड़के दूसरी फ्लाइट से दिल्ली पहुँचे। इस वजह से ‘AAP’ के राष्ट्रीय सम्मेलन में नहीं पहुँच पाए। 

मीडिया रिपोर्ट में एक यात्री के हवाले से कहा गया कि अत्यधिक शराब पीने के कारण मान अपने पैरों पर खड़े होने की स्थिति में नहीं थे। उनकी पत्नी और सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें सहारा दिया। इस कारण विमान के उड़ान में 4 घंटे की देरी हुई। 

निष्कर्ष

‘दी जर्मन टाइम्स’ के पहले पन्ने पर पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के नशे में होने की खबर झूठी है। यह सोशल मीडिया पर हास्य के लिए एक मीम को कुछ लोगों द्वारा सच मान लिया गया है।

Abhishek Semwal
Abhishek Semwal
All Posts

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Recent Posts

Popular Posts

Video Posts