फ़रवरी 1, 2023 11:58 अपराह्न

Category

ISRO की मदद से भारतीय रेलवे यात्रियों को देगा ट्रेन की रियल टाइम अपडेट

भारतीय रेलवे इसरो की मदद से ट्रेन को रियल टाइम ट्रेन इन्फॉर्मेशन सिस्टम (RTIS) से जोड़ रहा है, जिससे यात्रियों को ट्रेन के चलने के समय की सटीक जानकारी मिले।

793
2min Read
रेलवे ने लोकोमोटिव पर की RTIS प्रणाली स्थापित, यात्रियों को मिलेंगी रियल टाइम अपडेट

यात्रीगण कृपया ध्यान दें! ट्रेन का संचालन सयमानुसार हो और ट्रेन के चलने के समय की सटीक जानकारी यात्रियों के पास हो इसके लिए भारतीय रेलवे ने रियल टाइम ट्रेन इन्फॉर्मेशन सिस्टम (RTIS) को स्थापित किया है। यह तकनीक इसरो (ISRO) की मदद से स्थापित की गई है। 

यात्रियों की सुविधा के लिए RTIS को करीब 2700 ट्रेनों में स्थापित किया गया है, जिससे हर 30 सेकंड में ट्रेन की रियल टाइम जानकारी अपडेट होती रहेंगी। 

गाड़ियों की सटीक जानकारी के लिए तकनीक को स्थापित करने के लिए ये पहला चरण है। दूसरे चरण के अंतर्गत भारतीय रेलवे इसरो के 50 लोको शेड में 6,000 इंजनों को शामिल किया जाएगा। 

वर्तमान संदर्भ में करीब 6,500 लोकोमोटिव (RTIS एवं REMLOT) को सीधे कंट्रोल ऑफिस एप्लीकेशन से जोड़ा जा रहा है। इसका उद्देश्य यात्रियों को स्वचालित चार्टिंग और तत्काल जानकारी देना है।

इसके साथ ही भारतीय रेलवे ने प्लेटफॉर्म और ट्रेन में डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने की प्रक्रिया पर भी काम शुरू कर दिया है। 8,878 इकाइयों में पहले से ही यह क्षमता मौजूद है।

खानपान इकाइयों के लिए रेलवे हाथ से संचालित पीओएस मशीनें मुद्रित बिल और चालान बनाने के लिए मुहैया करवाई जा रही हैं। वर्तमान में, 596 ट्रेनों में 3081 पीओएस मशीनों के जरिए काम किया जा रहा है। रेलवे मंत्रायलय ने जानकारी दी है कि करीब 4316 स्थिर इकाइयों को पीओएस मशीनें उपलब्ध करवाई जा रही हैं। 

रेलवे में ई-कैंटरिंग की सुविधा IRCTC द्वारा उपलब्ध करवाई जाती है। यह सुविधा 310 रेलवे स्टेशनों पर 1755 सेवा प्रदाताओं द्वारा 41,844 भोजन की आपूर्ति कर रही हैं।

The Indian Affairs Staff
The Indian Affairs Staff
All Posts

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Recent Posts

Popular Posts

Video Posts