फ़रवरी 2, 2023 12:30 पूर्वाह्न

Category

2017 से हो रहे लेस्टर में हिन्दुओं पर हमले, ब्रिटेन का यूट्यूबर मोहम्मद हिजाब भड़का रहा हिंसा

ग्लोबल ऑर्डर की रिपोर्ट के अनुसार, ब्रिटेन के लेस्टर में हुई हिन्दूविरोधी हिंसक घटनाओं को भड़काने की साजिश रचने में मोहम्मद हिजाब नाम के ब्रिटेन के एक प्रसिद्ध YouTuber का नाम सामने आया है। लेस्टर में हिन्दुओं के खिलाफ 2017 से ही अपराध हो रहे हैं।

1495
2min Read
हिन्दू संगठनों मुस्लिम लेस्टर इंग्लैंड लेबर पार्टी पाकिस्तान HIndu Muslim Labor Party England Leicester

ब्रिटेन के लेस्टर शहर में हुई हिन्दूविरोधी हिंसक घटनाओं को भड़काने की साजिश रचने में मोहम्मद हिजाब नाम के ब्रिटेन के एक प्रसिद्ध YouTuber का नाम सामने आया है।

गौरतलब है कि इंग्लैण्ड के लेस्टर शहर में अगस्त माह से ही हिन्दुओं के खिलाफ इस्लामी हिंसा का सिलसिला शुरू हो गया था। इसके बाद पूरे सितंबर माह में थोड़े-थोड़े अन्तराल पर हिन्दुओं के खिलाफ हिंसा, मंदिरों में तोड़फोड़, हिन्दू धार्मिक प्रतीकों का अपमान, हिन्दू घरों पर हमले जैसी घटनाएं हो रही हैं। इस मामले में अब तक केवल 47 गिरफ्तारियां ही की गई हैं।

अपने यूट्यूब चैनल पर हिन्दुओं को ‘ठग’ कहकर लेस्टर के मुसलमानों को भड़काता मोहम्मद हिजाब

लेस्टर सिटी में हिंदुओं के खिलाफ तोड़फोड़ और आतंक करने वाले संगठित गिरोहों के बारे में सोशल मीडिया पर कई सारी वीडियोज और रिपोर्ट्स प्रसारित हो रही हैं।

समचार वेबसाइट ग्लोबल ऑर्डर ने बताया कि मोहम्मद हिजाब को इनमें से कई वीडियोज में लेस्टर में ‘भीड़’ का नेतृत्व करते देखा जा सकता है। ब्रिटिश-मिस्र मूल के मोहम्मद हिजाब की यूट्यूब और ट्विटर सहित सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर बड़ी फॉलोइंग है, और वह खुद को राजनीति और मजहब का शोधकर्ता कहता है।

मोहम्मद हिजाब द्वारा हिन्दुओं और हिन्दू संगठनों को बदनाम करके मुस्लिमों के बीच नैरेटिव बनाने की कई वीडियोज सामने आई हैं

ग्लोबल ऑर्डर की रिपोर्ट में कहा गया है कि, “लेस्टर में हुईं झड़पों के दौरान उसे अक्सर सड़कों पर एक मेगाफोन के साथ देखा गया जिसमें वह युवा मुस्लिम पुरुषों को हिन्दुओं के खिलाफ अपमानजनक, और गाली गलौज वाली अभद्र टिप्पणियों के साथ उकसा रहा है।”

रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले साल ब्रिटेन में हुए यहूदी विरोधी दंगों के दौरान भी मोहम्मद हिजाब यहूदीयों के खिलाफ नफरत और हिंसा को बढ़ावा देने वाले प्रमुख अपराधियों में शामिल था। रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि इसके बाद कई यहूदी नागरिक उन्हें मिली धमकियों और उनके खिलाफ हुई हिंसा के प्रत्यक्ष मामलों की रिपोर्ट देने के लिए सामने आए थे।

दंगाई मुस्लिम भीड़ का नेतृत्व करता मोहम्मद हिजाब

लेस्टर में हिंदुओं पर हमले की वास्तविक कहानी

इससे पहले, लंदन में भारतीय उच्चायोग मामले पर लगातार नजर बनाए हुए है और उसने लेस्टर में हिन्दुओं के खिलाफ हुई हिंसा की फिर से आलोचना कर हमलों में शामिल लोगों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की मांग की थी। उच्चायोग ने एक बयान जारी कर कहा कि उसने इस पूरे मामले को ब्रिटेन के अधिकारियों के समक्ष उठाया है।

बयान में कहा गया, “हम लेस्टर में भारतीय समुदाय के खिलाफ हुई हिंसा और हिंदू धर्म के प्रतीकों और परिसरों में हुई तोड़फोड़ की कड़ी आलोचना करते हैं। हमने ब्रिटेन के अधिकारियों के सामने इस मामले को मजबूती से उठाया है और इन हमलों में शामिल लोगों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की मांग की है। हम प्रभावित लोगों को सुरक्षा प्रदान करने के लिए अधिकारियों से अपील करते हैं।”

लेस्टर हिन्दूविरोधी दंगों से पस्त, लन्दन राज्याभिषेक में व्यस्त

भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने बुधवार को अपने ब्रिटिश समकक्ष जेम्स क्लीवरली से मुलाकात की और ब्रिटेन में भारतीय समुदाय की सुरक्षा के बारे में भारत की चिंता जाहिर की। जयशंकर ने ट्वीट किया, “ब्रिटेन में भारतीय समुदाय की सुरक्षा और खुशहाली के बारे में अपनी चिंता साझा की। इस संबंध में उनके आश्वासन का स्वागत किया।”

विदेश मंत्री जयशंकर ने अपने ब्रिटिश समकक्ष से मुलाकात कर उठाया मुद्दा

लेस्टर में 2017 से हो रही हिन्दुओं के खिलाफ हिंसा, लगातार बढ़ रहे मामले

लेस्टर में हिन्दू-विरोधी अपराध नए नहीं हैं, हाल ही में 2017 का एक वीडियो सामने आया है जिसमें नवरात्रि के दौरान एक हिन्दू मंदिर के बाहर सोमाली मुसलमान अराजकता फैला रहे हैं और लड़ाई झगड़ा कर रहे हैं।

कई भारत-विरोधी पश्चिमी विश्लेषक, कट्टरपंथी और वामपंथी नेक्सस दंगों के लिए भारत की राजनीति, भारत सरकार और हिन्दू संगठनों पर दोष मढ़ रहे हैं, जबकि तथ्य यह है कि इंग्लैंड में हिंदू विरोधी घृणा अपराध लगातार बढ़ रहे हैं। यूके होम ऑफिस के आंकड़ों के अनुसार, हिंदुओं के खिलाफ घृणा अपराध 2017-18 में 58 मामलों से बढ़कर 2020-21 में 166 हो गए हैं, केवल चार वर्षों में ही हिन्दुओं के खिलाफ अपराधों में लगभग 200 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

लेस्टर दंगा: ब्रिटेन की लेबर पार्टी ने स्वीकारी भारतीयों के खिलाफ़ झूठा नैरेटिव बनाने की बात

वर्ष 2018-19 और 2019-20 दोनों में हिन्दुओं के खिलाफ 114 हमले हुए। इन संगठित अपराधों में हिन्दुओं के खिलाफ नस्लीय गालियाँ, हिंसक हमलों से लेकर निजी संपत्तियों और मंदिरों में तोड़फोड़ तक शामिल हैं।

ब्रिटेन की तरह कनाडा में भी हिन्दुओं के खिलाफ अपराध बढ़ते ही जा रहे हैं। हाल ही सितंबर में कनाडा के स्वामीनारायण मंदिर में तोड़फोड़ की घटना के बाद 23 सितंबर को विदेश मंत्रालय ने कनाडा में रहने वाले भारतीयों के लिए एक एडवाइजरी जारी भी जारी की है। “स्टेटिस्टिक्स कनाडा” के अनुसार, कनाडा में हिंदुओं और बौद्ध आदि के खिलाफ 2016 में 37, 2017 में 57, 2018 में 52, 2019 में 57 और 2020 में 41 घृणा अपराधों को अंजाम दिया गया।

कनाडा: भारत विरोधी नारों से रंगा स्वामीनारायण मंदिर, लगातार हमलों से गहरा रहा कनाडाई खालिस्तानी संकट

इंग्लैण्ड के लेस्टर में पाकिस्तानी भीड़ का हिन्दू इलाकों पर हमला, उतारे भगवा झण्डे

Mudit Agrawal
Mudit Agrawal
All Posts

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Recent Posts

Popular Posts

Video Posts