सितम्बर 26, 2022 4:22 अपराह्न

Category

ब्रिटेन की नवनिर्वाचित पीएम लिज ट्रस और भारत के लिए इसके मायने

लिज ट्रस का भारत के प्रति हमेशा से सकारात्मक रुख रहा है। अपने चुनाव प्रचार के दौरान भी लिज ट्रस चीन को लेकर आलोचनात्मक रूप में दिखीं। लिज ट्रस ने चीन को 'खतरे' के रूप में परिभाषित किया है।

1119
2min Read
लिज ट्रस और एस जयशंकर

ब्रिटेन में प्रधानमंत्री पद के चुनाव परिणाम बीते सोमवार, (5 सितंबर 2022) को सामने आए। लिज ट्रस (Liz Truss) ब्रिटेन की नई प्रधानमंत्री बन गई हैं। लिज ट्रस ने अपने प्रतिद्वंदी ऋषि सुनक को तकरीबन 20,000 वोटों से हराया है। ब्रिटेन के इतिहास में लिज ट्रस तीसरी महिला हैं, जो प्रधानमंत्री बनी हैं।  

प्रधानमंत्री के रूप में लिज ट्रस के सामने अभी कई चुनौतियाँ हैं। ब्रिटेन राजनीतिक संकट से भले ही उभर रहा है लेकिन आर्थिक मंदी और मंहगाई ब्रिटेन के लिए सबसे बड़ी चुनौती बनी हुई है। हाल ही में भारत ने ब्रिटेन को विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देश की सूची में एक पायदान खिसकाकर छठे पायदान पर पहुंचाया है।

लिज ट्रस रखती हैं भारत के लिए दोस्ताना 

लिज ट्रस का भारत के प्रति हमेशा से सकारात्मक रुख रहा है। अपने चुनाव प्रचार के दौरान भी लिज ट्रस चीन को लेकर आलोचनात्मक रूप में दिखीं। लिज ट्रस ने चीन को ‘खतरे’ के रूप में परिभाषित किया है।  

रूस-यूक्रेन युद्ध के दौरान पूरी दुनिया भारत की ओर आशान्वित दृष्टि से देख रही थी। रूस और भारत सम्बन्ध को लेकर भी कुछ यूरोपीय देशों ने आलोचनात्मक रुख अपनाया हुआ था। बावजूद, भारत और ब्रिटेन व्यापार सुचारू रूप से चल रहा था। 

लिज ट्रस ने बतौर विदेश मंत्री भारत के साथ अच्छे सम्बन्ध निबाहे हैं। कोविड-19 महामारी के दौरान दुनियाभर में पैरासिटामोल नामक दवाई की भारी कमी देखने को मिली थी, इस दौरान भारत ने ब्रिटेन की मदद की थी। इस पर लिज ट्रस ने आभार जताते हुए कहा भी था, “पैरासिटामोल के निर्यात को मंजूरी देने के लिए भारत सरकार का बहुत-बहुत धन्यवाद।” 

लिज ट्रस का अक्टूबर, 2021 का भारत दौरा बेहद खास माना गया था। लिज ट्रस और विदेश मंत्री एस जयशंकर के बीच इस बैठक में प्रौद्योगिकी, निवेश, व्यापार और सुरक्षा सम्बन्धी मामलों में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। लिज ट्रस अपने ट्वीट में कहती भी हैं, “भारत हमारा मित्र देश है। भारत आर्थिक महाशक्ति और विश्व का सबसे बड़ा लोकतंत्र है। आने वाले दशकों में हमारे सम्बन्ध महत्वपूर्ण होंगे।”

इस तरह के बयान संकेत करते हैं कि लिज ट्रस के कार्यकाल में ब्रिटेन और भारत के सम्बन्धों में और मजबूती देखने को मिल सकती है। 

The Indian Affairs Staff
The Indian Affairs Staff
All Posts

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Recent Posts

Popular Posts

Video Posts