फ़रवरी 1, 2023 11:46 अपराह्न

Category

लाल बहादुर शास्त्रीः वह नेता, जिन्हें देश बहुत याद करता है

बहरहाल, जिस ‘फिएट कार’ को खरीदने का मन शास्त्री जी बना चुके थे वह तकरीबन 12,000 रुपए की कार थी। जबकि, शास्त्री जी के बैंक अकाउंट में मात्र 7,000 रुपए थे।

1289
2min Read
लाल बहादुर शास्त्री

भारतीय राजनीति में आमतौर पर कोई विधायक भी बन जाए तो आज भी ऐसा माना जाता है कि आर्थिक रूप से तो कम से कम उसकी पीढ़ी की हालत अब सुधर गई है। 

भारतीय राजनीति जो परिवारवाद, भाई-भतीजावाद और भ्रष्टाचार के त्रिदोष से ग्रस्त हो। ऐसे में क्या यह सम्भव है कि देश के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की मृत्यु के बाद, उनके परिवार के पास रहने के लिए न कोई ढंग का घर, न ही खेती के लिए उचित भूमि दिखती है। बैंक बैलेंस तो दूर-दूर तक कहीं नजर नहीं आया। 

हाँ, बैंक से जुड़ी एक घटना जरूर गाहे-बगाहे सामने आती रहती है।

कहानी यह है कि लाल बहादुर शास्त्री, अपने परिवार के कहने पर एक कार खरीदना चाहते थे। चूँकि शास्त्री जी प्रधानमंत्री थे तो सरकारी कार तो थी, लेकिन उसका उपयोग निजी-घरेलू कार्यों के लिए करना लाल बहादुर शास्त्री जी को पसंद नहीं था।

बहरहाल, जिस ‘फिएट कार’ को खरीदने का मन शास्त्री जी बना चुके थे वह तकरीबन 12,000 रुपए की कार थी। जबकि, शास्त्री जी के बैंक अकाउंट में मात्र 7,000 रुपए थे। अब बाकी का पैसा बैंक से लोन लिया गया और क्रीम रंग की फिएट कार खरीद ली गई।

लाल बहादुर शास्त्री मेमोरियल, दिल्ली

बैंक का लोन लाल बहादुर शास्त्री के प्रधानमंत्री रहते चुकता न हो सका। शास्त्री जी की मृत्यु के बाद, उनकी पत्नी ललिता शास्त्री ने अपने पति की पेंशन से आगामी चार साल में बैंक का लोन चुकता किया। हालाँकि, इन्दिरा गाँधी के प्रधानमंत्री बनते ही सरकार ने लोन माफी की पेशकश जरूर की, लेकिन ललिता शास्त्री जी ने इसे स्वीकार नहीं किया। यह ईमानदारी भला और कहाँ देखने को मिल सकती है?

सुपर कम्युनिस्ट लाल बहादुर शास्त्री

सोवियत संघ के तत्कालीन प्रधानमंत्री अलेक्सी कोशिगिन ने लाल बहादुर शास्त्री के सरल व्यक्तित्व को देखते हुए, उन्हें सुपर कम्युनिस्ट तक कह दिया था।

3 जनवरी 1966 को प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री, पाकिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति जनरल अयूब खान के साथ बैठक के लिए ताशकंद गए थे। ताशकंद में जनवरी की ठण्ड हाड़ तक को कँपा देने वाली थी और शास्त्री जी इस ठण्ड में भी अपने साथ केवल खादी का ऊनी कोट लेकर गए थे। 

ताशकंद में शास्त्री जी

ताशकंद में अलेक्सी कोशिगिन को लगा कि यह कोट ठण्ड से बचाने के लिए नाकाफी है। इसलिए उन्होंने एक कार्यक्रम में शास्त्री जी को उपहार स्वरूप एक गर्म ओवरकोट भेंट किया। 

रूसी प्रधानमंत्री अलेक्सी कोशिगिन को बीती रात पूरी उम्मीद थी कि शास्त्री जी ताशकंद में गर्म ओवरकोट को जरूर पहनेंगे। अगली सुबह कोशिगिन ने देखा कि शास्त्री अपना वही खादी का ऊनी कोट पहने हुए हैं, जो वह दिल्ली से लेकर आए थे। 

कोशिगिन ने भारतीय प्रधानमंत्री से हिचकिचाते हुए पूछा भी कि उनके द्वारा दिया गया ओवरकोट पसन्द आया या नहीं? इस पर शास्त्री जी ने जवाब दिया, “यह वास्तव में गर्म है और मेरे लिए बहुत आरामदायक है, लेकिन मैंने इसे अपने एक स्टाफ को दे दिया, जो कड़ाके की ठण्ड में पहनने के लिए अच्छा ऊनी कोट नहीं लाया था।” 

कोशिगिन ने भारतीय प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री और पाकिस्तान के राष्ट्रपति जनरल अयूब खान के सम्मान में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में इस घटना का जिक्र किया। तब उन्होंने कहा था, “हम कम्युनिस्ट हैं, लेकिन शास्त्री सुपर कम्युनिस्ट हैं।”

ताशकंद में शास्त्री जी, कोशिगिन और अयूब खान

पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को लेकर कहा जाता रहा है कि वो आपात स्थिति में ही सरकारी विमान का उपयोग करते थे। क्योंकि, उस समय भारत की आर्थिक स्थिति बेहद खराब थी। शास्त्री जी अपने कार्य के प्रति इतने निष्ठावान थे कि वह अपने कार्यालय से संबंधित फाइल्स साथ में लेकर चलते थे। ताकि, काम समय पर पूरा हो सके।

विमान में अपना कार्य करते शास्त्री जी

ताशकंद में लाल बहादुर शास्त्री की संदिग्ध मृत्यु के पश्चात सोवियत संघ के प्रधानमंत्री अलेस्की कोशिगिन कहते भी हैं, “ताशकंद की बैठक के 7 दिनों के दौरान, लाल बहादुर शास्त्री धैर्यपूर्वक समाधान की तलाश में थे। इन सभी 7 दिनों में उनसे आखिरी मुलाकात तक, उनके निधन के तीन घंटे पहले, मैं यह देख सकता था कि वह अपने देश और अपने लोगों के हितों के लिए कितनी गहराई से सोचते थे।”

Jayesh Matiyal
Jayesh Matiyal

जयेश मटियाल पहाड़ से हैं, युवा हैं और पत्रकार तो हैं ही।
लोक संस्कृति, खोजी पत्रकारिता और व्यंग्य में रुचि रखते हैं।

All Posts

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Recent Posts

Popular Posts

Video Posts